Saturday, October 8, 2022
HomeStatesFaridabad: मृतक का दो बार हुआ पोस्टमार्टम...जानें पूरी खबर

Faridabad: मृतक का दो बार हुआ पोस्टमार्टम…जानें पूरी खबर

Date:

फरीदाबाद/ देवेंद्र कौशिक

फरीदाबाद के डबुआ कॉलोनी में 22 जुलाई को हुई युवक की मौत के मामले में दाे बार पोस्टमार्टम कराने पर माैत की वजह अलग अलग बताई गयी है। जिसके चलते परिजनों ने हत्या की आशंका के जताते हुए डीसीपी को लिखित शिकायत देकर हत्या के एंगल से जांच करााने की मांग की है। क्योंकि फरीदाबाद में कराए गए पोस्टमार्टम में युवक की मौत का कारण करंट लगना बताया गया है। जबकि यूपी के सुल्तानपुर में दोबारा कराए गए पोस्टमार्टम में मौत की वजह हेड इंजरी बताई गयी है। परिजनों की शिकायत के बाद  पुलिस की कार्रवाई  और पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों पर भी सवाल उठ रहे हैं।

ये है पूरी घटना-

जानकारी के अनुसार जिला सुल्तानपुर (यूपी) के मरियमपुर गांव का मूल  निवासी चंद्रेज उर्फ पप्पू सिंह (36) यहां डबुआ  कॉलोनी में रहकर एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। उसका परिवार सुल्तानपुर में गांव में रहकर खेती-किसानी करता है।मृतक के भाई गप्पू सिंह एवं मित्र अखिलेश सिंह ने बताया कि  21 जुलाई को पप्पू के मामा शेष बहादुर सिंह व उनके पार्टनर अनिल ने अपने घर  बुलाया था। इसके दूसरे दिन 22 जुलाई को पप्पू के छोटे भाई प्रताप बहादुर सिंह उर्फ गप्पू को फोन पर सूचना मिली कि उनकी करंट लगने से मौत हो गयी है। जिसके बाद पुलिस ने मृतक का बीके अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया। डॉक्टरों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में करंट लगने से मौत बताई गयी और शव परिजनों को सौंप दिया। परिजन शव लेकर अपने गांव मरियमपुर चले गए।

अंतिम संस्कार से पहले हुआ शक, दोबारा कराया पोस्टमार्टम-

पप्पू का अंतिम संस्कार करने से पहले की जा रही रस्म क्रिया के दौरान परिजनों को करंट लगने की बजाय हत्या का शक हुआ। क्योंकि मृतक के सिर पर चोट के निशान भी मिले थे। इसके बाद परिजनों ने डीएम सुल्तानपुर से दोबारा पोस्टमार्टम कराने की गुहार लगाई। डीएम के आदेश पर वहां के सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों के पैनल द्वारा दाेबारा पोस्टमार्टम कराया गया। जिसमें मौत का असली कारण हेड इंजरी बताया गया। परिजनों काे जैसे ही हेड इंजरी की मौत की वहज पता चली तो उनका शक और ज्यादा गहरा गया। जिसके चलते अब उन्होंने डीसीपी एनआईटी अंशु सिंगला को लिखित शिकायत देकर हत्या के एंगल से जांच करने की मांग की है।

पैसों के विवाद के चलते रिश्तेदारों पर हत्या का आरोप-

मृतक के पिता तेज बहादुर सिंह का आरोप है कि उनके बेटे पप्पू की हत्या  पैसों के लेन देन के कारण हुई है। इसमें उनके रिश्तेदारों का ही हाथ है। पुलिस को दी गयी शिकायत में बताया कि घटना वाले दिन पप्पू को उनके रिश्ते में मामा लगने वाले शेष बहादुर, तेज बहादुर और इनके पार्टनर अनिल ने अपने यहां टेंट का काम करने के लिए बुलाया था। मौत के बाद बताया कि पप्पू की मौत करंट लगने से हो गयी है। उधर जांच अधिकारी सब इंस्प्क्टर नरपत का कहना है कि परिजनों ने जो शिकायत दी है उस आधार पर जांच की जाएगी। जो भी जांच में खुलासा होगा उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी। परिजनों की शिकायत के बाद सवाल इस बात को लेकर उठ रहे हैं कि आखिर पुलिस और डॉक्टरों ने मामले की गंभीरता से जांच क्यों नहीं की।

Latest stories

Related Stories