Friday, September 30, 2022
HomeStatesदेश- आयुष्मान योजना की पहली लाभार्थी करिश्मा के सभी कार्ड हुए निरस्त,...

देश- आयुष्मान योजना की पहली लाभार्थी करिश्मा के सभी कार्ड हुए निरस्त, जाने क्यों

Date:

इंद्री /विजय काम्बोजी

 

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त 2018 को आयुष्मान भारत योजना लागू कर गरीबों व जरूरतमंदों को सरकारी सहायता से ईलाज करवाने की एक योजना को लागू किया था। इस योजना को लेकर खूब प्रचार प्रसार भी किया गया। आयुष्मान योजना की पहली लाभार्थी बनने का सौभाग्य हरियाणा प्रदेश के करनाल जिला के इन्द्री विधानसभा की एक गरीब कन्या को मिला। प्रधानमंत्री ने इस योजना को लागू करने के कुछ ही समय बाद इसे कन्या का जन्म हुआ ओर यह पहली आयुष्मान लाभार्थी घोषित की गई। प्रधानमंत्री ने दिल्ली में एक कार्यक्रम में इस कन्या के अभिभावकों को बुलाकर सम्मानित कर आयुष्मान कार्ड बनाने की घोषणा की गई। कुछ समय तो सब ठीक ठाक चला ओर इनको इस योजना के तहत कुछ लाभ भी मिले लेकिन मौजूदा समय में इस परिवार का आयुष्मान कार्ड कैंसिल कर दिया गया है ओैर बीपीएल कार्ड को काटकर एपीएल बना दिया गया है। आज यह परिवार दोबारा से आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिये सरकारी दफतरों के चक्कर काटने पर मजबूर हो रहा है। 

 

 
पहली लाभार्थी जिसका नाम करिशमा रखा गया उस के परिजन इस कर्ड को दोबारा से बनवाने के लिये जिला उपायुक्त व इन्द्री के विधायक रामकुमार कश्यप तक अपनी गुहार लगा चूके है लेकिन सिवाए कोरे आश्वासनों के अभी तक कुछ भी हासिल नहीं हुआ है। गौरतलब है कि जिस समय करिश्मा को पहली लाभार्थी घोषित किया गया था तो उस समय के इन्द्री के विधायक ओर खाद्य आपूर्ति राज्य मंत्री कर्णदेव कांबोज ने खुद करिश्मा के घर जाकर उनके परिजनों को बधाई दी व सरकार की योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी थी। अब आज की स्थिति में करिश्मा के परिजन जब मौजूदा विधायक व आला अधिकारियों के आगे अपनी गुहार लगा कर थक चूके है ओर कोई उनकी समस्या का कोई हल नहीं निकल पा रहा है तो करिश्मा के परिजनों ने दोबारा से पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज के आगे अपनी गुहार लगाई है।

 

 
करिश्मा के मामा प्रताप सिंह ने बताया कि पिछले एक साल से हमारा बीपीएल का कार्ड एपीएल का बना दिया गया है ओर आयुष्मान की सारी सुविधाएं भी समाप्त कर दी गई है। इसको लेकर विधायक व अन्य अधिकारियों को कई बार मिल चूके है लेकिन कोई भी हल नहीं निकल पाया है। अंत में हमने पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज को अपनी समस्या बताई तो उन्होंने इस पर तुरंत कार्यवाही करते हुए इन्द्री के एसड़ीएम को फोन कर पूरी जानकारी ली। प्रताप सिंह ने बताया कि पूर्व मंत्री ने हमें पूरा भरोसा दिलाया है कि उनकी समस्या का कुछ ही दिनों में हल निकाल दिया जायेगा ओर फिर से उनको सब सुविधाएं मिलनी शुरू हो जायेगी। करिश्मा के पिता अमित ने बताया कि वो एक बेहद गरीब परिवार से संबध रखते है ओर दिहाड़ी मजदूरी कर अपना घर चला रहे है। उनकी बेटी पहली आयुष्मान भारत योजना की पहली लाभार्थी तो बनी लेकिन कुछ ही समय बाद हमें सभी सुविधाएं मिलनी बंद हो गई है। इसके लिये हमने सभी अधिकारियों व इन्द्री के विधायक के चक्कर काटे लेकिन कोई भी हमारी बात को सुनने को तैयार नहीं हुआ। अंत में पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज से मिलकर अपनी समस्या उनको बताई तो उन्होंने शीघ्र ही इस समया को हल करने का आश्वासद दिया है। अमित ने कहा कि हमें पूर्व मंत्री पर भरोसा है कि वो हमारी सभी सुविधाएं फिर से चालू करवा देगें। उन्होंने कहा कि मेरी मांग है कि मेरी बेटी की पढ़ाई का सारा खर्चा सरकार दें ताकि वो पढ़ लिख कर अपने प्रदेश व देश का नाम रोशन कर सके।
 
पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज ने कहा कि आज से तीन साल पहले स्वतंत्रता दिवस के दिन प्रधानमंत्री ने यह आयुष्मान भारत योजना लागू की थी जिसकी पहली लाभार्थी उनके विधानसभा क्षेत्र के गांव घिसरपुडी की यह लड़की करिश्मा बनी थी। आज करिश्मा के तीसरे जन्मदिन पर मैं उसको बधाई देने आया तो करिश्मा के परिजनों ने मेरे सामने अपनी यह समस्या रखी है। उन्होंने कहा कि करिश्मा का परिवार एक बेहद गरीब परिवार है ओर खुद देश के प्रधानमंत्री ने उसको अपना आर्शिवाद दिया है तो मैं पूरी कोशिश करूगां कि उनको ये सब सुविधाएं दोबारा से मिल सके। उन्होंने कहा कि कुछ कानूनी औपचारिकताएं है जिनकों पूरा करने के बाद इस परिवार को आयुष्मान योजना के सभी लाभ दोबारा से मिलने शुरू हो जायेगें। उन्होंने परिजनों को पूरा विश्वास दिलाया कि वो उनका फिर से बीपीएल कार्ड  व अन्य सुविधाएं दिलाने का भरसक प्रयास करेगें।

Latest stories

Related Stories