Saturday, January 28, 2023
HomeनेशनलFarmers Protest in Lakhimpur kheri : संयुक्त किसान मोर्चा लखीमपुर खीरी में...

Farmers Protest in Lakhimpur kheri : संयुक्त किसान मोर्चा लखीमपुर खीरी में धरने पर डटा

Date:

इंडिया न्यूज, Uttar Pradesh News (Farmers Protest in Lakhimpur kheri) : केंद्र के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा का 75 घंटों तक चलने वाला धरना आखिर शुरू हो गया है। धरने के दौरान बड़ा हंगामा न हो, इसलिए एहतियात के तौर पर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। वही धरनास्थल पर कमिश्नर और आईजी रेंज ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ रूट मार्च किया। धरने के दौरान किसान नेताओं के मंच पर पंजाब से विभिन्न किसान नेताओं, भाकियू नेता राकेश टिकैत के साथ मेधा पाटेकर भी मौजूद रहीं।

पंजाब के हजारों किसान कल ही पहुंच गए थे धरनास्थल

ज्ञात रहे कि धरने में शामिल होने के लिए पंजाब से हजारों किसान बुधवार को ही उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी पहुंच गए थे। संयुक्त किसान मोर्चा ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में ‘न्याय’ की मांग रखी है। इसी कारण आज यानि 18 से 21 अगस्त तक विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) नेता राकेश टिकैत ने उपस्थित लोगों को तिकुनियां कांड में 4 किसानों और एक पत्रकार की हत्या के मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए और उन्हें मंत्रिमंडल से तुरंत बर्खास्त किया जाए।

जानिए क्या हैं संयुक्त किसान मोर्चा की मांगें

  • लखीमपुर खीरी के तिकुनियां में किसानों और एक पत्रकार की हत्या मामले में उप गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टैनी को मंत्रिमंडल से बर्खास्त हो।
  • लखीमपुर खीरी हत्याकांड में निर्दोष किसान जो जेलों में बंद हैं, उन्हें तुरंत रिहा किया जाए और उनके ऊपर लगे केस तुरंत वापस हों।
  • सभी फसलों के ऊपर स्वामीनाथन कमीशन के द्वारा सी-2 +50% के फार्मूले से एमएसपी की गारंटी वाला कानून बनाया जाए।
  • भारत के सभी किसानों के सर पर चढ़े कर्ज को एकमुश्त कर्ज मुक्त करें।
  • उत्तर प्रदेश की खंड मिलों की तरफ जो किसानों की बकाया राशि है वो तुरंत जारी की जाए।

… नहीं तो जिला मुख्यालय पर भी धरना देंगे : टिकैत

 

तीन दिन के धरने को लेकर प्रशासन ने बाहर से आने वाले किसानों के लिए पानी और शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं की। राकेश टिकैत ने प्रशासन को चेतावनी दी कि अगर व्यवस्था दुरुस्त नहीं हुई तो किसान जिला मुख्यालय पर भी धरना देंगे। जब पहले ही प्रशासन को धरने के बारे में कह दिया था तो इंतजाम क्यों नहीं किए गए।

टेनी को बर्खास्त किया जाए : योगेंद्र यादव

किसान नेता योगेंद्र यादव () ने भी कहा कि तिकुनियां हत्याकांड के मुख्य दोषी टेनी को बर्खास्त किया जाए। भाजपा को तुरंत बड़ी जांच करनी चाहिए। एफआईआर में टेनी का नाम होने के बावजूद उन्हें नामजद नहीं किया जा रहा।

ज्ञात रहे कि लखीमपुर खीरी में पिछले वर्ष 3 अक्तूबर को यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करते वक्त चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया था, लेकिन टेनी को अभी तक बर्खास्त नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें : IMT in Ambala : आईएमटी से हजारों युवाओं को मिलेगा लाभ : कार्तिक शर्मा

यह भी पढ़ें : Maruti-Suzuki Company हरियाणा में 900 एकड़ में लगाएगी प्लांट, पीएम करेंगे शिलान्यास

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories