Saturday, January 28, 2023
HomeनेशनलReliance AGM 2022 : इन शहरों में दिवाली तक लॉन्च हो जाएगी...

Reliance AGM 2022 : इन शहरों में दिवाली तक लॉन्च हो जाएगी Jio 5G सेवाएं

Date:

इंडिया न्यूज, New Delhi (Reliance AGM 2022) : देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की सलाना बैठक इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता के मेट्रो शहरों में दिवाली 2022 तक Jio 5G सेवाएं लॉन्च कर दी जाएंगी।

वहीं दिसंबर 2023 तक पूरे भारत के हर शहर और कस्बे तक सुविधा पहुंचा दी जाएगी। Jio की महत्वाकांक्षी 5G रोलआउट योजना विश्व में सबसे तेज होगी। 5जी नेटवर्क पर आप गेमिंग के दौरान भी अलग-अलग एंगल से गेम का आनंद ले सकेंगे। जियो का 5जी एक्सपेरियंस सेंटर जल्द मुंबई में होने वाला है। पैन-इंडिया 5G नेटवर्क के लिए 2 लाख करोड़ रुपये का निवेश करेगा। Reliance AGM 2022

जीओ नेटवर्क दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क होगा

मुकेश अंबानी ने संबोधित करते हुए यह भी कहा कि Jio5G दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे उन्नत 5ॠ नेटवर्क होगा। अन्य आपरेटरों के विपरीत, Jio का 5G नेटवर्क 4G नेटवर्क पर शून्य निर्भरता के साथ स्टैंड-अलोन होगा। Jio 5G कवरेज, क्षमता, गुणवत्ता और सामर्थ्य का एक अद्वितीय संयोजन प्रदान करने में सक्षम होगा।

भारत में 42.1 करोड़ जियो उपभोक्ता

इवेंट के दौरान मुकेश अंबानी ने बताया कि जियो के ग्राहकों की संख्या 42.1 करोड़ से ज्यादा है। जियो के ग्राहक हर माह औसतन 20 जीबी डाटा का प्रयोग कर रहे हैं। देश में प्रत्येक तीन में से दो यूजर जियो फाइबर के हैं। जल्द ही 100 से अधिक शहरों में Jio 5G लॉन्च होगा। मुकेश अंबानी ने कहा कि आज मैं जियो 5जी की घोषणा कर रहा हूं।

जियो 5G सर्विस रोलआउट को तैयार

ज्ञात रहे कि रिलायंस जियो ने हाल ही में भारत में अलग-अलग फ्रीक्वेंसी बैंड में 5G नेटवर्क सेवाएं शुरू करने के लिए 5G स्पेक्ट्रम हासिल किया था। कंपनी ने दूरसंचार विभाग (DoT) की ओर से आयोजित नीलामी में 700MHz, 800MHz, 1800MHz, 3300MHz और 26GHz बैंड में स्पेक्ट्रम हासिल किया था। रिलायंस इस स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल 20 साल तक कर सकेगा, इसके लिए जियो द्वारा 88,078 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं।

यह भी पढ़ें : Noida Twin Tower : बिल्डिंग तो ध्वस्त, लेकिन सांस के रोगियों और पर्यावरण को नुकसान

Connect With Us: Twitter Facebook

 

Latest stories

Related Stories