Tuesday, December 6, 2022
Homeनेशनलअयोध्या में राम मंदिर के गर्भगृह का शिलान्यास, आज का दिन ऐतिहासिक

अयोध्या में राम मंदिर के गर्भगृह का शिलान्यास, आज का दिन ऐतिहासिक

Date:

इंडिया न्यूज, Uttar Pradesh News : आज अयोध्या में एक और इतिहास बनने जा रहा है। रामलला के मंदिर के गर्भगृह का शिलान्यास आखिर वर्षों बाद शुरू हो गया। गोरक्ष पीठ के महंत और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसका उद्घाटन किया। इस अवसर पर स्वामी परमानंद सहित राम मंदिर आंदोलन से जुड़े कई संतों सहित 300 लोग मौके पर मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए सुबह नौ बजे अयोध्या पहुंच गए थे। उन्हें रिसीव करने के लिए उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या राम कथा पार्क पहुंचे थे। यहां से पहले वह साढ़े नौ बजे हनुमानगढ़ी में दर्शन करने पहुंचे। वहां उन्होंने पूजा अर्चना की। इसके बाद राम जन्मभूमि के लिए रवाना हो गए।

अब निर्माण कार्य में होगी और तेजी : योगी

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 500 वर्षों से देश के साधु-संतों ने राम मंदिर को लेकर काफी संघर्ष किया है। आज उन सभी लोगों के दिल को खुशी मिली होगी क्योंकि गर्भगृह का पहला पत्थर रख दिया गया है वहीं मीडिया से रू-ब-रू होते हुए सीएम ने कहा कि आज से काम तेजी से शुरू होगा, जल्द ही श्रीराम का भव्य मंदिर अयोध्या धाम में बनकर तैयार हो जाएगा।

निर्माण का साक्षी बनना सौभाग्य की बात : डिप्टी सीएम

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि देश की सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद ही राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण शुरू हुआ। पहले चरण का काम के बाद आज दूसरे चरण के क्रम में काम शुरू हुआ है। आज का दिन राम भक्तों के लिए है खुशी का दिन। राम भक्तों को शुभकामना। हनुमान जी की कृपा से सब काम हो रहा है। डिप्टी सीएम ने कहा कि सौभाग्यशाली हूं कि मंदिर निर्माण का साक्षी बन रहा हूं।

5 अगस्त, 2020 को पीएम ने किया था भूमि पूजन

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त 2020 को यहां भूमि पूजन किया था। बता दें कि मंदिर के गर्भगृह क्षेत्र में राजस्थान का सफेद संगमरमर का प्रयोग किया जाएगा। मंदिर निर्माण क्षेत्र और उसके प्रांगण सहित कुल 8 एकड़ भूमि को घेरते हुए एक आयताकार दो मंजिला परिक्रमा मार्ग परकोटा भी बनाया जाएगा।

3 चरणों में पूर्ण होगा मंदिर का निर्माण

बता दें कि मंदिर का निर्माण कार्य 3 चरणों में पूरा किया जाएगा। इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए अयोध्या राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा ने कहा कि अधिरचना पर काम आज से शुरू हो रहा है, हमारे पास कार्यों को पूरा करने के लिए 3-चरणों की समय-सीमा है। पहले चरण में 2023 तक गर्भगृह, दूसरे में 2024 तक मंदिर निर्माण और 2025 तक मंदिर परिसर में मुख्य निर्माण का कार्य होगा।

Connect With Us : Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories