Friday, October 7, 2022
HomeहरियाणाVegetables Price Hike in Haryana फल-सब्जियों के भाव आसमान को छूए, लोगों...

Vegetables Price Hike in Haryana फल-सब्जियों के भाव आसमान को छूए, लोगों में हा-हाकार

Date:

Vegetables Price Hike in Haryana

इंडिया न्यूज, चंडीगढ़।
Vegetables Price Hike in Haryana हरियाणा और पंजाब समेत पूरे उत्तर भारत में इस समय फलों और सब्जियोंं की कीमतें काफी बढ़ती जा रही हैंं। लोगों का कहना है कि जो हाल इस समय सब्जियों और फलों का हो रहा है। ऐसा तो कोरोना काल में भी नहीं हुआ। गर्मी में नींबू की जरूरत होती है लेकिन उसके भाव ने ही सबको नचोड़कर रख दिया है। उसके भी नखरे काफी बढ़ चुके हैं। लोगों का कहना है कि पिछली दिनों तक सब्जियों के दाम इतने कम थे कि 500 में हफ्तेभर की सब्जी आ जाती थी, लेकिन पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से 500 में महज 2 दिन की सब्जी भी नहीं आ पा रही। गर्मी के दिनों में नींबू पानी की ज्यादा आवश्यकता होती है और इस समय नींबू के दाम 250 से 300 रुपए प्रति किलो तक जा पहुंचे हैं। व्यापारियों का कहना है कि महंगाई का सीधा असर फल-सब्जियों दिख रहा है। फल-सब्जियों की बढ़ी कीमतों ने हर घर का बजट बिगाड़कर दिया है।

कम डिमांड वाली सब्जियां भी महंगी

नींबू, करेला, ब्रोकली, मिर्च, शिमला मिर्च सबके दाम आसमान पर पहुंच गए। पहले जिन सब्जियों की डिमांड कम होती थी, अब वो भी महंगी हो गई हैं। लोगों का कहना है कि अब वे सब्जियां कम मात्रा में ही खरीद रहे हैं। जिस सब्जी को पहले 1-1 किलो ले जाते थे, अब वो सब्जी महज 250 ग्राम खरीदी जा रही है। इसका असर केवल उपभोक्ता पर नहीं है, बल्कि मंडी के थोक और फुटकर व्यापारी भी है। इनके अलावा सब्जी मंडी में काम करने वाले और सब्जी-फलों को अपने वाहनों से लाने वाले भी महंगाई से त्रस्त नजर आए।

ये बोले फल-सब्जी विक्रेता

सब्जी मंडी में विक्रेता पंकज और फल विक्रेता विक्की ने बताया कि गर्मी होने के कारण हर साल फल-सब्जियों के दाम बढ़ते थे, लेकिन इस बार पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बढ़ जाने के कारण दामों में काफी इजाफा हुआ है। डिंपी का कहना है कि जिन सब्जियों की ग्रोथ कम होती है या वे मार्कीट में कम आती हैं, उनके दाम बढ़ जाते थे। ऐसे ही जिन सब्जियों की ग्रोथ ज्यादा होती है, उन सब्जियों के दाम भी कम हो जाते थे, मगर इस बार तो सारी सब्जियां और फल बहुत अधिक दामों पर बेचना पड़ रहा है। इसके कई कारण हैं और सबसे बड़ा कारण है पेट्रोल-डीजल के दामों में बहुत अधिक बढ़ोतरी। वहींं, इंद्रजीत का कहना है कि सारा फ्रूट बाहरी राज्यों से आता है। इस कारण पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बढ़ जाने के कारण फलों के दामों में काफी इजाफा हुआ है।

Also Read: Russia Ukraine War 45th Day Update रूस से यूक्रेन रेलवे स्टेशन पर दागी क्रूज मिसाइल, 50 लोगों की मौत

Also Read: Covid Cases In India Today Update जानिये भारत में आज इतने केस आए

Connect With Us : Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories