Thursday, February 2, 2023
Homeहरियाणाअंबालाराज्यसभा सांसद Kartik Sharma ने अंबाला से आए लोगों को दिया ब्राह्मण...

राज्यसभा सांसद Kartik Sharma ने अंबाला से आए लोगों को दिया ब्राह्मण सम्मेलन का निमंत्रण

Date:

  • 11 दिसंबर को भगवान परशुराम महाकुंभ में ब्राह्मण समाज रचेगा इतिहास : कार्तिक शर्मा

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़ | Kartik Sharma : सीएम सिटी करनाल में 11 दिसंबर को सेक्टर-12 में परशुराम महाकुंभ के नाम से ब्राह्मण सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इसकी तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं। इसको लेकर राज्यसभा सांसद कार्तिक शर्मा ने अंबाला से आए विभिन्न वर्गों के लोगों को इस महाकुंभ का निमंत्रण दिया है। उन्होंने लोगों से अधिक से अधिक संख्या में सम्मेलन में पहुंचने की अपील की है।

अंबाला से आए कार्यकर्ताओं को करनाल सेक्टर-12 में होने वाले परशुराम महाकुंभ का निमंत्रण देते हुए सांसद कार्तिक शर्मा।

तमाम लोगों ने कार्तिक शर्मा के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए इसका स्वागत किया है। उन्होंने भी अधिक से अधिक तादाद में अपनी भागीदारी सम्मेलन में सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया है। कार्तिक शर्मा निरंतर हर वर्ग के लोगों से मिलकर उनको महाकुंभ का न्यौता दे रहे हैं। इस बात में कोई दो राय नहीं है कि वो राजनीति में बड़ा व युवा ब्राह्मण चेहरा हैं। उनके पिता विनोद शर्मा भी किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं।

विधायक रहते हुए विनोद शर्मा ने कमजोर ब्राह्मण तबके के लोगों की आवाज बुलंद की थी : Kartik Sharma

अंबाला से आए कार्यकर्ताओं को करनाल सेक्टर-12 में होने वाले परशुराम महाकुंभ का निमंत्रण देते हुए सांसद कार्तिक शर्मा।
अंबाला से आए कार्यकर्ताओं को करनाल सेक्टर-12 में होने वाले परशुराम महाकुंभ का निमंत्रण देते हुए सांसद कार्तिक शर्मा।
अंबाला से आए कार्यकर्ताओं को करनाल सेक्टर-12 में होने वाले परशुराम महाकुंभ का निमंत्रण देते हुए सांसद कार्तिक शर्मा।
अंबाला से आए कार्यकर्ताओं को करनाल सेक्टर-12 में होने वाले परशुराम महाकुंभ का निमंत्रण देते हुए सांसद कार्तिक शर्मा।

विधायक रहते हुए विनोद शर्मा ने आर्थिक तौर पर कमजोर ब्राह्मण तबके के लोगों की आवाज बुलंद की थी। इसके बाद से वर्ग के 10 फीसद आरक्षण का प्रावधान हुआ था। कार्तिक शर्मा की उनकी लोकप्रियता और स्वीकार्यता हर वर्ग में बराबर है। उनकी राजनीतिक सक्रियता ने कांग्रेस व अन्य विपक्षी दलों के दिग्गजों के माथे पर चिंता लकीरें खींच दी हैं। बता दें कि इस महाकुंभ के आयोजन की तैयारी भाजपा द्वारा की जा रही है और इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर साल बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहेंगे। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इस सम्मेलन के बड़े राजनीतिक मायने भी हैं और कहीं न कहीं इसको आने वाले विधानसभा चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

यह भी पढ़ें : Girl Suicide in Yamunanagar : कॉलेज की बिल्डिंग से कूदकर युवती ने किया सुसाइड

यह भी पढ़ें : Haryana cabinet : हरियाणा आत्मनिर्भर टेक्सटाइल पॉलिसी 2022-25 मंजूर, विधानसभा सत्र 22 दिसंबर से

Connect With Us : Twitter, Facebook

Latest stories

Related Stories