Wednesday, February 1, 2023
HomeहरियाणाHaryana Panchayat Election 2022: गुरुग्राम और हिसार की वार्डबंदी न होने का...

Haryana Panchayat Election 2022: गुरुग्राम और हिसार की वार्डबंदी न होने का कारण पंचायत चुनाव में देरी

Date:

इंडिया न्यूज, Haryana Panchayat Election 2022: हरियाणा में पंचायती चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों में तैयारिया शुरू हो गई हैं। लेकिन गुरूग्राम और हिसार की वार्डबंदी न होने के बारण चुनाव में देरी हो सकती है। अब गुरूग्राम के पटौदी को नगर परिषद बनाने और हिसार के बास और सिसाय नगर पालिका का दर्जा खत्म करके ग्राम पंचायत का दर्जा दिया जाएगा।

चुनाव आयोग ने पहले 30 सितंबर 2022 तक चुनाव खत्म करवाने के लिए प्रयासरत था। लेकिन इनकी वार्डबंदी न होने के कारण अब राज्य चुनाव आयोग अगस्त के अंतिम सप्ताह में चुनाव करवाने की घोषणा करता है। बता दें कि राज्य में इस बार कुल 71741 पदों पर चुनाव होंगे। जिसमें 6228 सरपंच, 62022 पंच, ब्लॉक समिति के 30380 पदों पर चुनाव होने हैं।

गुरुग्राम और हिसार के कुछ गांवों की दोबारा होगी वार्डबंदी

राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह का कहना है कि सरकार से दोबारा कंसल्टेंशन आएगी। लेकिन गुरुग्राम और हिसार के कुछ गांवों को नगर पालिका से बाहर होने की वजह अब दोबारा वार्डबंदी की जाएगी। इसके बाद ही चुनाव आयोग घोषणा की जाएगी। अभी तय नहीं हो पाया कि चुनाव एक चरण में होंगे या दो चरणों में। एक चरण में चुनाव घोषित होने के बाद कम से कम 25 दिन और दो चरणों में होने पर 28 से 30 दिन की समय अवधि चाहिए। ऐसे में अगर चुनाव आयोग अगस्त माह के अंतिम सप्ताह में चुनाव करवाने की घोषणा करता है, तब 30 सितंबर तक चुनाव हो सकेंगे।

हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट में फिर से फैसले को चुनौती दी गई है। परंतु कोर्ट ने इस पर स्टे नहीं लगाया। इसके बाद पंचायतों की शक्तियां बीडीपीओ के पास चली गई। हरियाणा सरकार ने पंचायत चुनावों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण और बीसीए को 8 प्रतिशत आरक्षण दिया था। मई 2022 में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने सरकार को पंचायत चुनाव करवाने की अनुमति दे दी।

10 गांवों को मिलाकर नगर परिषद पटौदी- मंडी बनाने की घोषणा

हरियाणा सरकार ने 14 अगस्त को पटौदी नगर पालिका तथा हेली मंडी नगर पालिका तथा आसपास के 10 गांवों को मिलाकर नगर परिषद पटौदी- मंडी बनाने की घोषणा की है। अब इन गांवों के नगर परिषद में शामिल होने के बाद इसकी वार्डबंदी दोबारा से होगी। वहीं बास और सिसाय नगर पालिका का दर्जा खत्म करके पंचायतों का दर्जा दिया गया है।

Haryana Panchayat Election 2022

यह भी पढ़ें : Punjab and Haryana Government: चंडीगढ़ एयरपोर्ट के नाम को लेकर दोनों राज्यों के बीच बनी सहमति, अब शहीद भगत सिंह के नाम पर होगा एयरपोर्ट का नाम

यह भी पढ़ें : Hooda Statement on Adampur Elections : बोले-चुनाव के लिए कांग्रेस पूरी तरह से तैयार

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories