Tuesday, October 4, 2022
Homeहरियाणाहरियाणा मजबूती से पोषण की ओर कदम बढ़ा रहा Government is...

हरियाणा मजबूती से पोषण की ओर कदम बढ़ा रहा Government is taking important steps for malnutrition free Haryana

Date:

Government is taking important steps for malnutrition free Haryana

कुपोषण को दूर करने के लिए सरकार चला रही कई कार्यक्रम
पोषण अभियान सिर्फ एक कार्यक्रम न होकर एक जन आंदोलन : मुख्यमंत्री
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़।
Government is taking important steps for malnutrition free Haryana बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए उनका शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ होना बहुत जरूरी है, लेकिन कुपोषण के कारण अक्सर बच्चों का शारीरिक विकास रूक जाता है। बच्चों के पोषण स्तर को सुधारने और कुपोषण मुक्त हरियाणा के लिए सरकार हर भरसक प्रयास कर रही है। हरियाणा सरकार ने इस बार महिला एवं बाल विकास विभाग को 33.7% अधिक बजट आबंटन किया है, जिससे कुपोषण से निपटने और महिलाओं के पोषण स्तर में बढ़ोतरी के लक्ष्यों को हासिल किया जाएगा।

पोषण अभियान एक जन आंदोलन

केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कुपोषण मुक्त भारत के लिए चलाए जा रहे अभियान के बारे में मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि पोषण अभियान सिर्फ एक कार्यक्रम न होकर एक जन आंदोलन व भागीदारी है। उन्होंने अभियान के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सभी के सहयोग की अपील की है। कुपोषण को दूर करने के लिए सरकार द्वारा कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। बच्चों को पोषण से परिपूर्ण आहार खिलाया जा रहा है। बच्चों व महिलाओं को खाने में फोर्टिफाइड आटा, चावल और दूध से लेकर कई पोषक चीजों का सेवन करवाया जा रहा है। आंगनवाड़ी केन्द्रों में पोषण वाटिकाएं स्थापित की जा रही हैं।

हरियाणा में इतने कार्यक्रम आयोजित किए गए

उल्लेखनीय है कि कुपोषण मुक्त हरियाणा के लिए प्रदेश में 4 लाख से अधिक समुदाय आधारित कार्यक्रमों का संचालन किया गया है। 2 लाख से अधिक ग्रामीण स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण दिवस आयोजित किए गए हैं। 9 हजार से अधिक योग, आयुष व पोषण वाटिकाओं की स्थापना की गई है। पोषण माह में जन आंदोलन डैशबोर्ड पर 58 लाख से अधिक लोगों की भागीदारी रही, जबकि पोषण पखवाड़ा में जन आंदोलन डैशबोर्ड पर 21 लाख से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया। सरकार ने बच्चों के विकास, स्वास्थ्य जांच व निगरानी के लिए लगभग 26 हजार ग्रोथ मॉनिटरिंग डिवाइस उपलब्ध करवाए हैं। पोषण अभियान को गति देने के लिए आधारभूत सुविधाओं पर लगभग 429 करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई है।

Also Read: नारनौल में आखिर ऐसा क्या हो गया कि महिला अपने 3 बच्चों को लेकर टैंक में कूद गई Woman Commits Suicide With 3 Childrens In Narnaul

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories