Thursday, December 8, 2022
HomeहरियाणाHaryana E-Vidhan Sabha First Day : विधानसभा में कांग्रेस ने किया सदन...

Haryana E-Vidhan Sabha First Day : विधानसभा में कांग्रेस ने किया सदन से वर्कआउट

Date:

इंडिया न्यूज,  Haryana News (Haryana E-Vidhan Sabha First Day) : हरियाणा ई-विधानसभा के मॉनसून सत्र के पहले दिन की कार्यवाही जारी है। कानून के मुद्दे को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Haryana CM Manohar Lal) और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Former CM Bhupinder Singh Hudda) में बहस हुई। राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर चर्चा करने के लिए विपक्ष काम स्थगित कर चर्चा करने की बात पर अड़ गया। मुद्दे को लेकर 21 विधायकों ने ध्यानाकर्षण केंद्र लगाया है, इसलिए सबको बात करने का मौका दिया जाना चाहिए। लेकिन फिर भी बहस का मुद्दा खत्म नहीं हुआ और कांग्रेस के सभी विधायकों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ सभी विधायक सदन की कार्यवाही छोड़कर बाहर चले गए।

सर्वप्रथम शोक प्रस्ताव पढ़े गए

हरियाणा विधानसभा के आज आरम्भ हुए मानसून सत्र के प्रथम दिन सदन में पिछले सत्र से लेकर इस सत्र की अवधि के दौरान मृत्यु को प्राप्त हुए हरियाणा के दिवंगत पूर्व संसदीय सचिव, विधायकों, स्वतंत्रता सेनानियों व शहीद जवानों के सम्मान में शोक प्रस्ताव पढ़े गए और शोक संतप्त परिवारों के सदस्यों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की गई। सर्वप्रथम सदन के नेता मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शोक प्रस्ताव पढ़े।

इनके अलावा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता और विपक्ष के नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने भी शोक प्रस्ताव पढ़कर अपनी ओर से श्रद्धांजलि दी। इस दौरान सदन के सभी सदस्यों ने खड़े होकर दो मिनट का मौन रखा तथा दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना भी की। सदन में जिनके शोक प्रस्ताव पढ़े गए, उनमें हरियाणा की भूतपूर्व संसदीय सचिव डॉ. कृष्णा पंडित, हरियाणा विधान सभा के भूतपूर्व सदस्य चौधरी हरि चन्द हुड्डा और डॉ. राम कुवार सैनी शामिल हैं।

22 वीर शहीदों के निधन पर भी शोक व्यक्त

सदन में अदम्य साहस दिखाते हुए मातृभूमि की एकता व अखंडता की रक्षा करने के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले हरियाणा के 22 वीर शहीदों के निधन पर भी शोक व्यक्त किया गया। इन वीर शहीदों में महेन्द्रगढ़ के गांव खेड़ी तलवाना के सूबेदार संजय सिंह, जिला गुरुग्राम के गांव खेड़ला के सूबेदार प्रीतपाल सिंह, चरखी दादरी के गांव मिसरी के उप निरीक्षक राजकुमार यादव, झज्जर के गांव छारा के उप निरीक्षक जोगिन्द्र सिंह, जिला भिवानी के गांव तोशाम के उप निरीक्षक विक्रम सिंह, नूंह के गांव छारौड़ा के उप निरीक्षक एजाज खान, जिला महेन्द्रगढ़ के गांव पायगा के सहायक उप निरीक्षक शिवपाल सिंह, हिसार के गांव मंगलखां के सहायक उप निरीक्षक ओमप्रकाश, झज्जर के गांव पलड़ा के हवलदार सुरेश कुमार, जिला चरखी दादरी के गांव जेवली के हवलदार सुरेन्द्र कुमार, गांव महराणा के हवलदार श्रीओम गौतम एवं गांव बेरला के हवलदार विक्रम सिंह, महेन्द्रगढ़ के गांव डोहर खुर्द के हवलदार देवेन्द्र कुमार एवं गांव बवाना के हवलदार बीर सिंह, हिसार के गांव घिराय के राइफलमैन सुरेन्द्र सिंह बूरा, जिला झज्जर के बहादुरगढ़ के सार्जेंट महेश चंद्र, जिला चरखी दादरी के गांव नौरंगाबास जाटान के नायक मनोज कुमार, जिला महेन्द्रगढ़ के गांव खातोद के लांस नायक रोहित राव, सिरसा के गांव भावदीन के लांस नायक निशान सिंह, महेन्द्रगढ़ के गांव खामपुरा के एयर क्राफ्ट मैन अंकित यादव, गांव बलाना के सिपाही सुरेन्द्र और गांव धन्नौदा के सिपाही सचिन शामिल हैं।

इनके प्रति भी संवेदना प्रकट की गई

इनके अलावा, सदन में 19 जुलाई, 2022 को नूंह में अवैध खनन रोकने की कार्यवाही के दौरान मारे गये हरियाणा पुलिस के उप अधीक्षक सुरेन्द्र सिंह, गांव सारंगपुर, जिला हिसार के दु:खद एवं असामयिक निधन पर गहरा शोक प्रकट किया गया और दिवंगत के शोक-संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट की गई।

उपरोक्त के अलावा, हरियाणा विधान सभा के उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा के चचेरे भाई भगवान दास, विधायक रामकुमार गौतम की चाची गीता देवी, विधायक चिरंजीव राव के मामा सुरेश यादव और विधायक घनश्याम सर्राफ के साले अशोक कुमार के निधन पर भी गहरा शोक व्यक्त किया गया।

यह भी पढ़ें : Har Ghar Tiranga Campaign : हरियाणा में 60 लाख घरों पर फहराया जाएगा तिरंगा

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories