Friday, October 7, 2022
HomeहरियाणाAyushman Bharat Scheme के लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र से जोड़ा जा...

Ayushman Bharat Scheme के लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र से जोड़ा जा रहा : मुख्यमंत्री

Date:

इंडिया न्यूज, Haryana News (Ayushman Bharat Scheme) : मुख्यमंत्री मनोहर लाल (CM Manohar Lal) ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana) के तहत जारी आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Scheme) के लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र से लिंक करने के कार्य को तीव्रता से आगे बढ़ाया जाए। मुख्यमंत्री आज आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र तथा मुख्यमंत्री मुफ्त इलाज योजना से लिंक करने के संबंध में बुलाई गई बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना सहित सभी सरकारी योजनाओं के लिए 1.80 लाख रुपए की वार्षिक आय सीमा तय की गई है। इसी प्रकार, 1.80 लाख रुपए से ऊपर की आय की श्रेणी सीमा को भी निर्धारित की जाए।

प्रदेश में योजना के 15.50 लाख परिवार पात्र

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2011 की जनगणना के सामाजिक, आर्थिक आंकड़ों के आधार पर लाभार्थियों की संख्या 15.50 लाख परिवार है।
हरियाणा सरकार के पास नागरिक संसाधन सूचना विभाग द्वारा पीपीपी में पंजीकृत 25.85 लाख परिवारों का सत्यापित डाटा उपलब्ध है। आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्र सरकार व राज्य सरकार का 60:40 अनुपात का खर्च वहन की भागीदारी है।

यह भी पढ़ें : Bharat Jodo Yatra Day 2 : कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दूसरे दिन की शुरुआत

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने आयुष्मान कार्ड पर राज्य सरकार को अपना लोगो लगाने की अनुमति प्रदान की है। इस बात की जानकारी दी गई कि आयुष्मान अस्पताल ने 519 प्राइवेट व 174 नागरिक अस्पतालों को शामिल किया है। इसी प्रकार, 28,78,429 कार्ड जारी किए जा चुके हैं तथा 9,33,489 आयुष्मान परिवारों की पहचान की गई है और लगभग 539 करोड़ रुपए की राशि का क्लेम अब तक दिया जा चुका है। आयुष्मान योजना के प्रीमियम के रूप में 186 करोड़ रुपये राज्य सरकार की ओर से दिए गए हैं।

हरियाणा सरकार द्वारा आयुष्मान योजना में आंगनबाड़ी वर्कर्स, आशा वर्कर्स, विमुक्त घुमंतू जाति, मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना में शामिल लाभार्थियों, भवन निर्माण श्रमिक बोर्ड के तहत पंजीकृत श्रमिकों, चौकीदार, नंबरदार, आजाद हिंद फौज के सैनिकों के आश्रितों, द्वितीय विश्वयुद्ध सैनिकों के आश्रितों, इमरजेंसी के दौरान जेल में बंद रहे परिवारों , हिंदी आंदोलन, मान्यता प्राप्त मीडिया कर्मियों को शामिल करना प्रस्तावित है।

दिव्यांगों को भी 3 लाख रुपए तक के इलाज की सुविधा

इसके अलावा, दिव्यांगों को भी 3 लाख रुपए तक के इलाज की सुविधा आयुष्मान भारत योजना के तहत दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि विशेष शिविर लगाकर कार्ड वितरण का जल्द से जल्द किया जाए।

ये रहे उपस्थित

बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अनुराग रस्तोगी, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की मुख्य सचिव डॉ. जी अनुपमा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी उमाशंकर, अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल, आयुष्मान भारत हरियाणा स्वास्थ्य सुरक्षा प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रभजोत सिंह, स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक डॉ. वीना सिंह के अलावा आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : Make India Number 1 Campaign की आप ने की हिसार से शुरुआत

यह भी पढ़ें : Rear Seat Belt : अब कार में सभी के लिए सीट बेल्ट अनिवार्य : गडकरी

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories