Friday, December 9, 2022
HomeहरियाणाBabarpur Village Name Changed: पानीपत के गांव बाबरपुर का नाम बदलकर रखा...

Babarpur Village Name Changed: पानीपत के गांव बाबरपुर का नाम बदलकर रखा जायेगा श्री गुरु नानकपुरा, CM खट्टर ने की घोषणा

Date:

इंडिया न्यूज, Babarpur Village Name Changed (Haryana News): मनोहर लाल सरकार ने हरियाणा के पानीपत जिले के गांव बाबरपुर का नाम बदलकर श्री गुरु नानकपुरा रखने की सिफारिश की थी जिसे मान्यता प्राप्त हो गयी गई है। CM मनोहर लाल ने कहा कि नाम बदलने का काम अच्छा है। इतिहास में जो गलतियां हुई हैं उन्हें ठीक करना सरकार का काम है। लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए काम किया जाता है, इसलिए यह प्रस्ताव पास किया गया है और सरकार द्वारा उसको मान्यता दी जाती है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज पानीपत दौरे पर

मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज पानीपत दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने गांव बाबरपुर का नाम बदलने की अनाउंसमेंट की। सुप्रीम कोर्ट द्वारा हरियाणा में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अलग से गठन को मंजूरी दी गई है। जगदीश झींडा HGSPC के प्रधान बनने पर प्रदेश के सिख समाज में खुशी का माहौल छाया हुआ है। CM मनोहर लाल ने आज पानीपत जिले में सिख समाज के लोगों के साथ पहली पातशाही और इसराना साहिब गुरुद्वारे में माथा टेका।

ये भी पढ़ें : Ankita Murder Case: अंतिम संस्‍कार न करने पर अड़े अंकिता के रिश्तेदार, आक्रोशित जनता ने कई जगहों पर लगाया जाम

हरियाणा के एक्ट को सुप्रीम कोर्ट ने दी मान्यता

इस दौरान उन्होंने कहा कि संतों की शिक्षा बहुत महत्वपूर्ण है। समाज में जो कुरीतियों फैली हुई है उन्हें दूर करने का संतो द्वारा दिया गया उपदेश हमेशा से ही कारगर साबित हुआ है। यह उपदेश हमेशा उपयोगी रहेगा। हरियाणा के 52 ऐतिहासिक गुरुद्वारों के प्रबंधन के लिए हरियाणा के एक्ट को सुप्रीम कोर्ट ने मान्यता दे दी है, जो एक ऐतिहासिक फैसला है। हरियाणा के सभी ऐतिहासिक गुरुद्वारों में अब कमेटियां स्थापित कि जाएँगी। कमेटी में एक्ट के अनुसार काम होगा। चुनाव भी किये जायेंगे। कमेटी के साथ हरियाणा सरकार कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगी।

1 अक्टूबर से शुरू होगी धान की खरीदारी

हरियाणा में लगातार चल रही बारिश से किसानों को जो नुकसान हुआ है वह दुर्भाग्यपूर्ण हैं। सरकार की ओर से फसलों को गिरदावरी करने के आदेश दिए गए हैं। जहां भी फसलों का नुकसान हुआ उनके गिरदावरी करके सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता की जाएगी। 1 अक्टूबर से धान की खरीद शुरू होगी। धान खरीदने के सभी पैरामीटर पूरे होने के बाद धान खरीदी जाएगी। करनाल में जो आढ़ती हड़ताल पर बैठे है उनसे हमारी लगातार बातचीत हो रही है।

ये भी पढ़ें : Mann ki Baat: शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम, PM मोदी का ऐलान

ये भी पढ़ें : Today Corona Update: देश में पिछले 24 घंटों में सामने आये 4,777 नए कोरोना मामले 

Connect With Us: Twitter Facebook

Latest stories

Related Stories