Thursday, December 1, 2022
Homeहरियाणाकुरुक्षेत्रAyushman Bharat Yojana : मुख्यमंत्री 21 को मानेसर में करेंगे गोल्डन कार्ड...

Ayushman Bharat Yojana : मुख्यमंत्री 21 को मानेसर में करेंगे गोल्डन कार्ड वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ

Date:

  • करीब 28 लाख परिवारों को मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ

इंडिया न्यूज, Haryana (Ayushman Bharat Yojana) : प्रदेश में हर व्यक्ति को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिले, इसके लिए सरकार द्वारा लगातार स्वास्थ्य सेवाओं का सुदृढ़ीकरण और विस्तारीकरण किया जा रहा है। इसी कड़ी में एक कदम और आगे बढ़ते हुए हरियाणा सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश के ऐसे जरूरतमंद परिवारों को भी लाभ देने की शुरुआत की है, जिनका नाम वर्ष 2011 के सामाजिक आर्थिक और जातिगत जनगणना (एसईसीसी) डाटा में दर्ज नहीं हुआ था। ऐसे सभी व्यक्तियों के आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल 21 नवंबर को मानेसर में गोल्डन कार्ड वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ कर लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड वितरित करेंगे।

शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं हर व्यक्ति का मूल अधिकार : मनोहर लाल

मनोहर लाल
मनोहर लाल

मुख्यमंत्री मनोहर लाल का मानना है कि शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं हर व्यक्ति का मूल अधिकार है, जो उसे अवश्य मिलना चाहिए। इसलिए मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन से राज्य सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए प्रदेश में एसईसीसी सूची में शामिल परिवारों के अलावा ऐसे सभी परिवारों, जिनकी वार्षिक आय 1.80 लाख रुपए तक है, उन्हें आयुष्मान भारत योजना’ का लाभ देने का निर्णय लिया। एसईसीसी डाटा के अलावा इस योजना में शामिल किए जाने वाले अन्य परिवारों का 5 लाख रुपए तक का खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इसी प्रयास को अब मूर्तरूप देते हुए मुख्यमंत्री लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड वितरित करेंगे।

2018 में हुई थी आयुष्मान भारत योजना की घोषणा

मालूम रहे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने वर्ष 2018 में आयुष्मान भारत योजना की घोषणा की थी, जिसका उद्देश्य देश में जरूरतमंद व वंचितों को स्वास्थ्य सुविधाएं देना था। प्रदेश में भी एसईसीसी सूची के अनुसार पात्र लाभार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिक से अधिक गरीब परिवारों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ मुहैया करवाने के उद्देश्य से बीपीएल परिवारों की वार्षिक आमदनी सीमा को 1.20 लाख रुपए से बढ़ाकर 1.80 लाख रुपए किया गया है।

प्रदेश के 28 लाख परिवार योजना में शामिल

केंद्र सरकार के मापदंडों के अनुसार हरियाणा में 15,51,798 परिवार इस योजना में कवर हो रहे थे, लेकिन हरियाणा सरकार ने योजना का दायरा बढ़ाया, जिसके कारण अब प्रदेश के 28 लाख परिवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा। इन सब परिवारों को आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपए तक की नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

580 करोड़ से अधिक के दिए गए क्लेम

प्रदेश में अब तक 28,89,036 आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश में कुल 715 अस्पताल एम्पेनल्ड हैं, जिनमें 539 निजी अस्पताल और 176 सरकारी अस्पताल शामिल हैं। इन अस्पतालों के माध्यम से जरूरतमंद व्यक्तियों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल रहा है। अब तक इस योजना के तहत 5,51,480 क्लेम के दावे किए थे और 580.77 करोड़ रुपए से अधिक के क्लेम दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें : India Coronavirus Live Updates : देश में आज कोरोना के 501 केस

Connect With Us : Twitter, Facebook

Latest stories

Related Stories